Wednesday, July 25, 2007

एक फ्लौप सर्वेक्षण के नतीज़े

चिट्ठाकारी से सम्बन्धित एक सर्वेक्षण की प्रश्नावली ( questionnaire) मैने इस चिट्ठे पर 18 जुलाई को post किया था, जिसमें इस विषय पर कुछ रोचक प्रश्न शामिल थे. आशा थी,कि अधिकांश पढने वाले भाग लेंगे.
मित्र अरुण अरोरा जी ने इस सर्वेक्षण की घोषणा को एक लिंक भी अपनी साइट पर दिया ताकि अन्य लोग भी भाग ले सकें,परंतु कुल मिलाकर 34 लोगों ने इस सर्वेक्षण में हिस्सा लिया. हालांकि इस सर्वेक्षण की सीमाएं भी थीं तथा अनेक प्रश्नों का स्वरूप आदर्श नहीं था( जैसा कि सारथी जी ने सूचित भी किया था).

sample size कम होने , तथा सर्वेक्षण में प्रयुक्त प्रश्नावली (questionnaire) की सीमाओं के बावजूद नतीज़े प्रस्तुत कर रहा हू. इसमे ज्यादा स्पष्टीकरण की आवश्यकता भी नहीं है अत: सारे परिणाम ज्यों की त्यों प्रस्तुत हैं.


The statistics associated with results are shown below. This display can not be altered.
कौन से विषयों में आपकी रुचि है ?

1. ब्लौगिंग तक्नीक आदि 6 (18%)
2. काव्य -कथा साहित्य 7 (21%)
3. हास्य-व्यंग्य 11 (32%)
4. घरेलू उपयोगी विषय् 0 (0%)
5. खेल-कूद,स्वास्थ्य 0 (0%)
6. आर्थिक,धन,निवेश,बचत आदि 0 (0%)
7. सिनेमा, टी.वी ,मनोरंजन् 2 (6%)
8. राजनीति,कूट्नीति, चुनाव आदि 8 (24%)
9. सैर सपाटा, भ्रमण, 0 (0%)
Total Votes: 34


आप अमूमन कितने चिट्ठे /ब्लौग् प्रति सप्ताह देखते हैं?

1. पन्द्रह से कम् 3 (9%)
2. पन्द्रह से तीस् 5 (16%)
3. तीस से पचास 10 (31%)
4. पचास से भी अधिक् 14 (44%)
Total Votes: 32


क्या आप ब्लौग एग्रीग्रटेर की सेवाय्रें प्रयोग करते है ?

1. हां सिर्फ एक :नारद् 2 (6%)
2. हां सिर्फ एक: ब्लौग्वाणी 17 (49%)
3. हां सिर्फ एक: चिट्ठाजगत 0 (0%)
4. हां सिर्फ एक: हिन्दीब्लौग्स् 0 (0%)
5. हां,एक से अधिक् 10 (29%)
6. हां ,लगभग सभी 5 (14%)
7. नियमित नही, सिर्फ कभी कभी 0 (0%)
8. कभी नही 1 (3%)
Total Votes: 35


ब्लौग लिखना/ पढना आपके लिये क्या है?

1. ज्ञान वर्धन 10 (30%)
2. टाइम पास 2 (6%)
3. मनोरंजन् 5 (15%)
4. जन सम्पर्क /मित्र मंडल 2 (6%)
5. उपर्युक्त सभी 9 (27%)
6. इनमें से कोई भी नहीं 5 (15%)
Total Votes: 33


क्या आप हिन्दी के अतिरिक्त अन्य भाषाओं में चिट्ठे लिखते /पढते है ?

1. सिर्फ हिन्दी में 16 (50%)
2. हिन्दी व अंग्रेज़ी में 15 (47%)
3. हिन्दी व अन्य भारतीय भाषाओं में 1 (3%)
Total Votes: 32


हिन्दी चिट्ठों की विषय वस्तु के बारे में आपकी राय ?

1. बहुत ही रोचक विषय 7 (23%)
2. कुछ कुछ रोचक् 21 (68%)
3. कम रोचक 1 (3%)
4. बहुत ही कम रोचक् 2 (6%)
Total Votes: 31


हिन्दी चिट्ठों की लेखन शैली/ भाषा पर आपकी राय ?

1. आशा से भी अधिक अच्छी 3 (9%)
2. आशा के अनुरूप् 15 (47%)
3. अपेक्षा से कम् 7 (22%)
4. बहुत अधिक सुधार की गुंजाइश 7 (22%)
Total Votes: 32


हिन्दी चिटृठों के कुल पाठक वर्ग की संख्या का अनुमान ?

1. लग्भग 1000 20 (63%)
2. 1000 से 2000 1 (3%)
3. 2000 से 5000 5 (16%)
4. 5000 से 10000 2 (6%)
5. 10000 से 20000 1 (3%)
6. 20000 से 50000 1 (3%)
7. 50000 से अधिक किंतु एक लाख से कम् 1 (3%)
8. एक लाख से अधिक् 1 (3%)
Total Votes: 32




अगला सर्वेक्षण शीघ्र ही आयेगा,कृपया नये survey हेतु कुछ विषय( topics) का सुझाव दें. स्वागत .

5 comments:

नाम में क्या रखा है? said...

आपको 35 वोटर मिल गये बहुत बड़ी बात है साहब.
हमारे एमएलए या एमपी क्यों एसे होते हैं? पता चल गया!
आप इस सर्वेक्षण को फ्लाप क्यों कह रहे हैं

विष्णु बैरागी said...

हतोत्‍साहित बिलकुल न हों, यह क्रम बनाए रखें । प्रत्‍येक अच्‍छी बात को पहले खारिज ही किया जाता है । चूंकि आपका काम प्रत्‍यक्षत: और व्‍यक्तिगत रूप से लाभ‍कारी अनुभव नहीं होता इसलिए भाई लोगों ने इसकी अनदेखी कर दी । वे यह भूल रहे हैं कि आपके काम से समूची 'चिटृठा विधा' का भला और फायदा होगा ।

मैं आपके अगले सर्वेक्षण की प्रतीक्षा करूंगा ।

मोहिन्दर कुमार said...

AGLE SURVEKSHAN KA INTZAAR RAHEGA.. VOTE DAALNE AAYENGE

Shastri J C Philip said...

हिन्दी जगत के एक सर्वेक्षण के आरंभ मे 35 एक उत्साहजनक संख्या है. कृपया सर्वेक्षण जारी रखें.

परिणाम भी काफी जानकारीदायक हैं

-- शास्त्री जे सी फिलिप

हिन्दी ही हिन्दुस्तान को एक सूत्र में पिरो सकती है
http://www.Sarathi.infot

अफ़लातून said...

जब 'इनमें से कोई नही',जैसे विकल्प में १५ फीसदी उत्तर मिलें तब अगली बार से विकल्पों को बढ़ाने,बदलने पर विचार कर लेना चाहिए। पढ़ने वालों की अनुमानित तादाद वाले प्रश्न के जवाब के विकल्पों में नीचे की सीमा बाँध देना ग़लत था । जैसे मुझे लगता है कि पाठक-तादाद कम है।